अन्वेषी जैन की चुदाई – Anveshi jain Sex Story

anveshi jain ki chudai
Spread the love

अन्वेषी जैन की चुदाई करना तो हर कोई चाहता था लेकिन लेकिन हर इंसान केवल अन्वेषी जैन हॉट फोटोज देखके अपना लैंड हिला सकता था लेकिन अन्वेषी जैन को चोदना इतना आसान नहीं था।

अन्वेषी जैन मेरे साथ क्लास 11 में पढ़ती थी और बहुत बोल्ड थी , अन्वेषी हैं अपने इंस्टाग्राम पे अपनी सेक्सी पिक्स डालती थी और सबका लंड खड़ा करती थी लेकिन किसी को अपनी चूत नहीं देती थी।

अन्वेषी जैन के बूब्स का साइज का 36D था और वो बहुत हैवी थे, जब क्लास में शर्ट और स्कर्ट में आती थी तो हर लड़का बस अन्वेषी की चूत सूंघना चाहता था और उसको बेरहमी से पेलना चाहता था,

ये बात अन्वेषी को पता था और वो मज़े लेती थी लड़के के ठरक का , वो ऐसे गाड़ मटका मटका चलती थी की उसको देखके ही लड़को का पानी निकल जाये।

वो अपने बूब्स का खासा ख्याल रखती थी और इसलिए अन्वेषी ने जिम ज्वाइन किया था जिससे वो अपने चूची और गांड को शेप में रख सके। अन्वेषी जैन की सेक्सी जिम फोटोज जब क्लास के लड़को ने देखा तो पता चला की अन्वेषी ने जिम ज्वाइन किया है , अगले दिया क्लास के 40 50 लड़को ने जिम में अड्मिनिशन ले लिया।

anveshi jain Nude

अन्वेषा जैन की चुदाई करना तो दूर का सबका सपना था , अन्वेषी जैन की चूत सूंघने को मिल जाये बस इतना भी सबके लिए काफी था।

मेरे अंदर ऐटिटूड बहुत था इसलिए लड़कियों को भाव नहीं देता थ। हालाँकि अन्वेषी जैन की चुदाई की स्टोरी मेरे माइंड में भी चलती थी लेकिन मई इतना घुसता नहीं था।

मैंने अन्वेषी जैन को एक दिन व्हाट’स अप्प पे मैसेज किया की तुम्हे मै लास्ट काफी दिन से देख रहा हु गन्दी बात करती हो इंस्टाग्राम पे उलटी सीढ़ी फोटोज डालती हो , इतनी सुन्दर हो तुम ये सब करने की क्या जरूरत है।

अन्वेषी – अच्छा तो तुम भी मेरी इस्टाग्राम देखते हो, कभी देखा नहीं की तुमने एक भी फोटो लाइक की हो , ऐसा क्यों। मेरी पिक्स नहीं पसंद आती ?

मैं – पसंद तो बहुत आती है लेकिन दूसरा देखे ये मै नहीं चाहता।

अन्वेषी जैन – मैं इतनी मेहनत सेक्सी फिगर मेन्टेन किया है और दूसरा देखेगा नहीं तो फायदा क्या होगा ऐसे फिगर का ?

मैं – तुम पता भी लड़के तुम्हारी सेक्सी फोटोज देखके क्या क्या बात करते है और क्या क्या काम करते है ?

अन्वेषी – लोल नहीं।  बताना मुझे क्या क्या काम करते है।

मैं – वो तुम्हे सपने में सोच के गन्दी हरकते करते है। तुम्हारे फिगर के बारे में बात करके मज़े लेते है।

अन्वेषी जैन – अच्छा। तुम्हे लोग को पता भी है की मुझे कितनी परेशानी होती है बड़े बड़े बूब्स को लेके घुमते हुए। तुम समझ भी सकते हो?

मैं – मैं तो चाहता हु की तुम्हारे बूब्स को हाथो से सपोर्ट दे दिया करू जिससे तुम्हे ज्यादा भार न ढोना पड़े।

मैं घर पे अकेली हु आ जाओ थोड़ी बात करनी है।

मैं – ठीक है बस आता हु। जब मै वह पंहुचा तो देखा की अन्वेषी जैन सेक्सी नाईट ड्रेस में थी और स्मोक कर रही थी।

अन्वेषी जैन – मेरी चूचिया और गांड देखके तो ही लड़के पागल होते है जिसमे मुझे मज़ा अत है।  तुम्हारा मन नहीं होता की अन्वेषी जैन की बड़ी बड़ी चूचियों का दूध पि जाऊ ?

anveshi jain sex stories

अन्वेषी की बाते सुनके मैंने उसे सोफे पे बैठा लिया और उसे किश करने लगा और हाथ उसके नाईट ड्रेस में डाल दिया। आह , मैंने अन्वेषी जैन शर्ट ऊपर की और उसके पैंटी को सूंघने लगा। अन्वेषी की चूत को मैंने 10 मिनट तक सूंघा और जीभ अंदर घुसेड़ दी।

अन्वेषी जैन के नाईट सूट का मैंने बटन तोड़ दिया और उसके ब्रा को फाड़के उसके खरबूजों को आज़ाद कर दिया।

अन्वेषी जैन को नंगा देखके मुझे समझ ही नहीं आ रहा था की उसकी बूब्स को चूसो या चूत चाटु या अपना लंडा अन्वेषी जैन की चूत में डाल दू।

अन्वेषी जैन की चूचिया इतनी बड़ी थी जैसे मेरे रूम के पिलो। बहुत हैवी थे अन्वेषी जैन के बूब्स , मुझे यकीन नहीं हो रहा था की आज मैं अन्वेषी जैन की चुदाई करने जा रहा हु।

मैं कुत्तो की तरह अन्वेषी की चूत को चाटने लगा आह आह मै जीभ रगड़ रहा था , अन्वेषी की दोनों टैंगो को मैंने पूरा फैला दिया दो हिस्सों में अब उसकी चूत दो फैंको में बाँट गयी , कभी मैं उसकी चूत को सूंघता तो कभी चाटता , अन्वेषी हस्ते हुए मज़े ले रही थी।

अन्वेषी – लगता है तुम जन्मो जन्मो के भूखे हो मेरी चूत के।  कितना टेस्टी लग रही है मेरी चूत जो इस तरह चाट रहे हो।

मैंने उसकी टैंगो को चाटा और उल्टा करके उसकी गाड़ को भी चाटा। उस वक़्त मुझे कुछ भी नहीं समझ आ रहा था बस अन्वेषी जैन का शरीर दिख रहा था।

मैं अन्वेषी जैन के मुँह में लंड डाल दिया और अंदर घुसेड़ने लगा , वो मन करती रही और मैंने अन्वेषी जैन के मुँह की चुदाई जारी राखी। अन्वेषी जैन ने ब्लोजॉब दिया और अब मेरे ऊपर चढ़ गयी।

अन्वेषी ने अपनी बड़ी बड़ी चूचिया मेरे मुँह में घुसेड़ थी और मेरे लंड पे अपनी चूत को रगड़ने लगी। वो अपना सारा दूध मेरे मुँह में डाल देना चाहती थी लेकिन अन्वेषी जैन के बूब्स इतने बड़े थे की उसका बस निप्पल्स मेरे मुँह में जा रहा था और कुछ नहीं।

anveshi jain sex story

मैंने अन्वेषी को सीधा किया और चॉकलेट उसके बूब्स पे लगा दिया और अन्वेषी जैन के बूब्स को चूसना शुरू कर दिया। दोनों हाथो से मैंने उसके एक बूब्स को पकड़ा और चूसा।  उसकी चूचिया दुनिआमें सबसे शानदार होंगी बहुत देर तक उसकी चूचियों को चूसता रहा और हाथ से उसके चूत में ऊँगली करता रहा।

अन्वेषी जैन की चूत में ऊँगली जैसे गयी तो झटका खा गयी मैं उसकी चूत में ऊँगली को अंदर बहार करने लगा और उसके निप्पल्स को चूसता रहा।

बारी बारी से मैंने अन्वेषी जैन के बड़े बड़े बूब्स खूब चूसा और मैंने उसकी चूत में 4 उंगलिया करनी शुरू करदी स्पीड मे। अन्वेषी को पसीना आ रहा था। मैं समझ गया था की अन्वेषी अब बस मेरा लंड अपने चूत में डलवाना चाहती है।

मैं उसे वापस उल्टा किया और उसकी दोनों टंगे खोल के चाटने लगा। अन्वेषी जैन ने पानी छोड़ दिया था मैंने उसका सारा पानी चाटा और चूत चाटा।

अन्वेषी – मेरी तबियत खराब हो रही है लग रहा है , अब मुझे छोड़ दो जाने दो। बहुत थक गयी हु अब मै।

मैं – अभी कहा मेरी जान ,अभी तो तुम्हे और दर्द सहना है और मैंने लंड अन्वेषी की चूत में डाल दिया। अन्वेषी बहुत तेज़ चिल्लाई मैंने उससे थप्पड़ मारा और मुँह पे हाथ रखके लंड अंदर बहार करना जारी रखा।

घापा घप घापा घप चोदा अन्वेषी को मैंने। अन्वेषी पागल हो गयी थी और चूत उठा के मेरे लंड पे ऊपर नीचे कर रही थी , मैंने अन्वेषी जैन के चुदाई की वीडियो बनायीं और और अन्वेषी जैन न्यूड पिक्स भी ली।

उसकी चुदाई के बाद उसको किश किया और मैं आने लगा। अन्वेषी के बाल बिखरे हुए थे नंगी पड़ी हुई थी रिलैक्स होक।

अगले दिन अन्वेषी स्कूल आयी तो सलवार सूट में थी और मुझे देखके शर्मा गयी , सब लड़के लड़किया उसे देखके सरप्राइज थे। अब मैंने उसे पिक और ड्राप करता।

अब जब मूड होता तो उसे स्कूल के बाथरूम में तो कभी उसके घर में चोदता उसकी गाड़ और चूचिया और बड़ी हो गयी थी।

Anveshi jain ki chudai

दोस्तों क्या आपका भी कभी मूड हुआ है अन्वेषी जैन के दूध को निचोड़ के पि जाने का?


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *