छोटी बहन श्रेया की चुदाई – हॉस्टल से लौटने के बाद बहन को चोदा

chhoti bahan shreya ki chudai
Spread the love

मेरी छोटी बहन श्रेया हॉस्टल में रहके पढाई करती है, होली की छुटियो में घर आयी है। वो अभी बी-tech फर्स्ट ईयर की स्टूडेंट है।
श्रेया का शरीर अभी इतना भरा नहीं है और उसकी चूचिया नीम्बू जैसी है छोटी सी जो लेकिन अब उसके टॉप में थोड़ा उसके बूब्स झलके शुरू हो चुके है।
मेरा नाम शमीर है और मैंने पहले भी कई लड़कियों को चोदा है लेकिन छोटी बहन श्रेया की चुदाई का ख्याल कभी नहीं आया क्युकी एक तो वो मेरी सगी बहन है और दूसरा वो मुझसे करीब 5 साल छोटी है।

Behan ki lockdown me chudai
लेकिन बहन की चुदाई हिंदी स्टोरीज पढ़ पढ़के मेरा मन भी गन्दा सा होने लगा था, श्रेया अब जब घर में हाफ पैंट पहन के घूमती थी और पलथी मार्के बैठने से उसका पैंट जब और ऊपर चढ़ जाता तो उसकी मुलायम सी जंघे मेरे सामने आ जाती है।
श्रेया की गोरी मुलायम जाँघे देखके मेरा लंड खड़ा हो जाता था और मन होता की छोटी बहन श्रेया की चुदाई होली की छुटियो में कर दू।
मेरी बहन श्रेया अभी वर्जिन थी और उसकी चूत बहुत छोटी सी के साथ साथ खुसबू वाली भी होगी ये सोचके मैं मुट्ठ मार लेता।
हम पूरी फॅमिली एक साथ बैठके टीवी देख रहे थे, श्रेया किसी से चैटिंग पे लगी थी। पुरे टाइम बस मोबाइल चला रही थी मैंने उसका मोबाइल छीन लिया और उसके पकड़के बैठा लिया।
श्रेया मेरी गोद में बैठी हुई थी मैंने कहा की तुम जब तक यहाँ हो मोबाइल नहीं चलाओगी बस घरवालों को टाइम दोगी।
गोद में श्रेया को बैठके मज़ा आ रहा था, मेरा लंड खड़ा हो गया जो श्रेया की गाड़ में घुस रहा था , मन में आ रहा था की श्रेया का टॉप उतर के श्रेया के छोटे से बूब्स को मसल डालू।
उस दिन पहली बार मैंने श्रेया की गाड़ का मज़ा लिया , श्रेया की चूचिया तो ज्यादा बड़ी नहीं थी लेकिन श्रेया की गाड़ चौड़ी हो गयी थी जो लंड पे रगड़ने में बहुत मज़ा दे रहे थे।

Chhoti Behan Antra ki Chudai

Antra ke Choot ki pyas mitayi

एक बार इत्तिफ़ाक़ से श्रेया का मोबाइल अनलॉक मिल गया मुझे, मैंने उसमे छानबीन की तो ऐसी ऐसी बाते कर रखी थी उसमे आयेशा जिसे देखके लगा की श्रेया केवल उम्र में छोटी है दिमाग से एक दम जवान हो गयी है। उसके मैसेज कुछ ऐसे थे –
श्रेया – आयेशा यार, अभी पोर्न देखा उनके बूब्स कितने बड़े होते है मेरे कितने छोटे से है। तेरे देख कितने बड़े बड़े हो गए है। सरे लड़के क्लास के तेरी चूचियों पे मरते है , मुझे भी अपने बूब्स बड़े करने है।
आयेशा – हाहाहा। तुझे क्या लगता है श्रेया ये चुचु इतने बड़े अपने आप हो गए है ? बहुत लोगो ने बहुत म्हणत किया है मेरे बूब्स पे।
श्रेया – हम्म। मैं भी सोच रही हु की देवेश को हां बोल दू बहुत दिन से मेरे पीछे पड़ा है। काम से काम कुछ मज़ा ही देगा और बूब्स बड़े कर देगा।
आयेशा – हाहाहा है साली बहुत कमीनी होती जा रही है मेरे साथ। देवेश का देखे रहना, बहुत हरामी है बुरी तरह चोदता है वो रीना बता रही थी वो उसकी गर्लफ्रेंड थी पहले। बोलती है की चोद चोद के परेशान कर देता है।
श्रेया – हाय रे। इतना तो मैं नहीं चुद पाऊँगी। अभी तो मैंने एक बार भी सेक्स नहीं किया है। और ज्यादा चुदाई से पढाई भी डिस्टर्ब होगी। देखती हु मई कुछ और। अभी तो जा रही हु फिंगरिंग करने। सेक्सी कहानिया पढ़के चूत पागल हो रही है।
आयेशा – है साली जा अपने चूत में ऊँगली करले। और तुझे क्या दिक्कत है तेरा भाई तो है न। कितनी अच्छी बॉडी है उससे चुद जा।
तेरे बूब्स भी बड़े कर देगा और सगी छोटी बहन श्रेया की चुदाई भी ऐसा करेगा की दर्द न हो।
श्रेया – ओये पागल हो क्या ? मेरे बड़े भैया है वो। वो बेचारे मेरी तरफ कभी देखते भी नहीं तुम इतना गन्दा काम करने को कह रही हो। भाई बहन के चुदाई की कहानिया केवल इंटरनेट पे होती होंगी रियल लाइफ में नहीं।
आयेशा – अरे मुझे न बता। मुझे पता है सरे भाई बहन चोद होते है। और जिसकी बहन तेरे जैसी सेक्सी हो उसे कौन नहीं चोदना चाहेगा। श्रेया की मासूम चूत का दीवाना भाई हाहाहा हाहाहा हाहाहा।

Shadi ki rat Badi Behan ki Chudai

Badi didi ki chudai ki

श्रेया – तुम कुतिया हो साली। मैं भैया के बारे में ऐसा नहीं सोच सकती। तुझे मुबारक भाई जान चोदते है क्या?
आयेशा – हाहाहा पहले मुबारक भाई भी मुझसे बहुत दूर दूर रहते थे जब से जब उनके मुँह में अपने सगी बहन आयेशा के चूत का पानी लगा है न , तबसे मेरे गुलाम हो गए है। बस सगी बहन आयेशा की चुदाई का ही सोचते रहते है और मौका मिलते ही मेरी चूत में लंड दाल देते है।
लेकिन लास्ट कुछ सालो से मुबारक भाई का लंड थोड़ा कमजोर हो गया है।
तुम पहले शमीर भाई का लंड टॉय करो मज़ा आये तो थोड़ा टेस्ट अपनी दोस्त आयेशा को भी करवा देना हाहाहा हाहाहा।
श्रेया – हाहाहा आयेशा साली अभी तूने केवल इंटर पास करके btech में एडमिशन लिया है लेकिन कितनी बड़ी चुड़क्कड़ हो गयी है।
आयेशा – हाहाहा हाहाहा हाहाहा। साली अभी तेरे चूत में जब एक बार लंड जायेगा न तो तू फिर मेरी तरफ भाई की रखेल चुड़क्कड़ बहन बन जाएगी।

मैंने जैसे ये सब चाट पढ़ी मेरे पैरो के तले जमीन खिसक गयी। जिस बहन को मई इतनी मासून छोटी सी समझ रहा था वो इतनी बड़ी वाली निकली मुझे तो पता ही नई लगा।
मैंने सोच लिया की अब छोटी बहन श्रेय की चुदाई करूँगा और बहन के बूब्स को बड़ा भी करूँगा।
उस दिन के बाद से ही मेरी नज़र श्रेया पे रहने लगी और सगी बहन श्रेया को चोदने का प्लान बनाने लगा। श्रेया मुझसे रिमोट छीनने लगी तो मैंने उसे पकड़ के अपने गोद में बैठा लिया और फिर रिमोट देके बोला की ठीक है ३० मिनट देख लो अपने मन के प्रोग्राम।
श्रेया की हाफ पैंट ऊपर तक खिसक आयी थी और बहन की चिकनी गोरी टांगे मेरे सामने थी।
मैंने कुछ अनजाना बनते हुए अपना हाथ उसके जांघो पे रख दिया। पहली बार बहन की जांघो पे हाथ रखते ही मेरा लंड राकेट बन गया।
श्रेया – भैया नीचे से कुछ चुभ रहा है। थोड़ा सही कर लो।
मैंने – किसी का फ़ोन आया का एक्टिंग करते हुए वह से निकल गया। मैं ये नहीं जताना चाहता था उसे की बहन की गाड़ देखके लंड खड़ा हुआ।
लेकिन उस दिन मेरी सुरुवात हो चुकी थी, अब मैंने सोच लिया था की नास्ते में बहन की चूत खाना है और डिनर में बहन की गाड़ चोदना है।
श्रेया दुबली पतली सी है लेकिन उसकी गाड़ काफी चौड़ी है , मेरा मन उसकी गाड़ को बहुत दबाने का होता था लेकिन सगी बहन श्रेया की चुदाई करना इतना आसान तो नहीं होता न।
अब मै श्रेया की चुदाई के लिए सही वक़्त और मौके का इंतज़ार करने लगा।
श्रेया किचन में कुछ बना रही थी तो ऊपर मसाले का डिब्बा रखा था श्रेया वह पहुंच नहीं पा रही थी और उछल के कोसिस कर रही थी। मुझे हंसी आ रही थी उसे देखके।
श्रेया – भैया आप देखके हंस क्यों रहे हो ? मदद करो न मेरी प्लीज आप।
मैं – अच्छा बाबा। मैंने श्रेया की कमर पकड़ के ऊपर उठाया। उसकी गांड मेरे नाक से टच हुई तो एक स्मेल सी आयी जिससे सेक्स की चाहत और बढ़ गयी। मैंने श्रेया को नीचे उतरा तो वो गिरने लगी और उसे बचने के चक्कर में मेरे हाथ उसके बूब्स पे आ गए।
अब श्रेया के बूबू मेरे हाथ में थे जो मैंने मसल दिया।

Remote ke khel me Behan ko Choda

Remote lene ke chakkar ne louda le liya

श्रेया – आह भैया। दर्द हुआ।
मैं – क्या हुआ ?
श्रेया – भैया अभी आपके हाथ मेरे सीने को टच हुए तो दर्द हुआ।
मैं – क्यों क्या हुआ है ? सीने में दर्द हो रहा ह क्या ?
श्रेया – हां भैया। जबसे हॉस्टल से आयी हुई थोड़ा सा दर्द रहता है।
मैं – कहा पे दर्द बताना फिर मै देखु कुछ करू उसका या फिर डॉकटर को दिखाऊ ? श्रेया ने मेरा हाथ पकड़ के अपनी चूचियों पे रख दिया।
श्रेया – भैया पे थोड़ा अजीब सा दर्द होता है।
मैं – अरे मेरे बाबू को कोई दर्द है तो बताना चाइये था न। चलो आओ अंदर मै कुछ लगा दू इस्पे। और श्रेया को उठके मैं उसके रूम में ले गया लेता दिया।
श्रेया – लेकिन भैया आप मेरे सगे बड़े भाई हो। आपके सामने मै अपना टॉप कैसे उतारू ?
मैं – बेटा मैं तुमसे ५ साल बड़ा हु। मुझे न शर्माओ। तुम्हे दर्द में तो मै नहीं देख सकता न। श्रेया ने अपना टॉप उतर दिया। उसने ब्रा नहीं पहनी थी।
आह श्रेया को पहली बार मैंने नंगा देखा , मेरा राकेट खड़ा हो गया। श्रेया की चूचिया उतनी छोटी भी नहीं थी जितनी की कपड़ो के अंदर से दिखती है , श्रेया ने निप्पल्स भी काफी नुक्केले थे।
मैंने रहत रूह तेल निकला और उसके बूब्स पे लगाने लगा। श्रेया आँखे बंद करके लेती थी। मैंने श्रेया की चूचियों का मसल मसल के मसाज किया
रहा नहीं जा रहा था बस सगी बहन श्रेया की चुदाई के लिए मन पागल हो रहा था। मैंने मसाज करते करते श्रेया के निप्पल्स दबा दिए।
श्रेया – आह भैया दर्द होता है ऐसे मत दबाओ।
मैं- फ्रिज से जाके थोड़ा मलाई ले आया और बोला की इससे ज्यादा आराम होगा। श्रेया मेरी गोद में थी अब।
मैंने उसे सीधा किया और उसके बूब्स को मुँह में भर लिया और निप्पल्स को चूसने लगा।
श्रेया – अरे भैया ये आप क्या कर रहे है। मैं आपकी सगी छोटी बहन हु , मेरे साथ आप ऐसा कैसे सोच सकते है।
मैं – बाबू तुम्हे आराम देने के लिए ही सब कर रहा हु। और उसके निप्पल्स कप चूसने लगा।
श्रेया आँखे बंद करके लेती हुई थी , मैंने काफी देर उसके बूब्स को दबा और चूसा। एक हाथ मैंने श्रेया के शॉर्ट्स में दाल दिया और उसके चूत को रगड़ने लगा।
श्रेया – आह भैया आह। नहीं प्लीज। आह।
मैं – बेबी बस अभी तुम्हे आराम हो जायेगा। श्रेया को सीधे करके मैंने उसकी पैंट उतर दी, श्रेया ने ब्लैक कलर की पैंटी पहनी थी , उसके पैंटी को उतर कर सूंघने लगा मैंने – आह क्या सुगंध थी सगी बहन श्रेया के चूत की सुगंध।
मैंने जैसे ही श्रेया की टांगे फैला के अपनी जीभ उसके चूत में लगायी तो जैसे उसे करंट लग गया।
श्रेया – आह भैया। भैया ये न करो। अपने सगी बहन की चूत चाटना बहुत गलत रहेगा। मत चाटो अपने बना की चूत। ये कहते हुए मेरे सर को और अपने चूत में घुसेड़ लिया।
उस दिन मेरा सपना पूरा होने जैसे था मेरी सगी छोटी बहन की कुवारी चूत मेरे सामने थी। आज छोटी बहन श्रेया की चुदाई का सपना सच होने जा रहा था।
मैंने रगड़ रगड़ के श्रेया के चूत को चाटा। श्रेया का पहली बार था तो उसका खुदपे कण्ट्रोल नहीं रहा और उसने पानी छोड़ दिया।
बहन के चूत को मैंने साफ़ किया और लंड बहार निकला। श्रेया देखके बोली भैया ये बहुत बड़ा है मत डालो।
ऊपर से जो भी करना हो करलो लेकिन अंदर न डालो।
इतना सब्र होने के बाद मेरा खुदपे काबू नहीं रहा। मैंने कहा की श्रेया तुम मेरी सगी बहन हो तुम्हे मै दर्द नहीं दूंगा। और धीरे धीरे चोदूंगा।
मैंने अपना लंड सगी छोटी बहन की चूत में डालदिया।
श्रेया की चूत बहुत टाइट थी। पहले अंदर जाने में उसे दर्द हुआ लेकिन मैंने धीरे धीरे उसे आराम दे दिया और देर तक चोदा।
श्रेया – आह भैया। आह चोदो और चोदो । मज़ा आ रहा। चोद दो अपनी सगी बहन श्रेया को।
मैं – आह मेरी गुड़िया। तेरी चूत लेने के लिए तो कबसे तड़प रहा हु। मैंने फाॅर्स बढ़ा दिया।

उस दिन के बाद से फिर ये कारवां चलने लगा। श्रेया जब तक यहाँ रही उसे चोदा। बहन की होली में चुदाई भी की।
ये कहानी काफी लम्बी हो गयी है। अगली कहानी में मै बताऊंगा की क्या हुआ जब श्रेया ने आयेशा को अपनी चुदाई का किस्स्सा बताया।
दोस्तों आपको मेरी अपनी कहानी छोटी बहन श्रेया की चुदाई कहानी कैसी लगी कृपया कमेंट करके जरूर बताय।


Spread the love

4 thoughts on “छोटी बहन श्रेया की चुदाई – हॉस्टल से लौटने के बाद बहन को चोदा”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *